क्या आपको पता है ईपीएफओ में 6 लाख रूपये की बीमा भी है? ईडीएलआई क्या है?

क्या आपको पता है ईपीएफओ में 6 लाख रूपये की बीमा भी है? ईडीएलआई क्या है?

बहुत से कर्मचारी जो कंपनी में कार्यरत हैं अधिकतर कर्मचारी को यह नहीं पता रहता की उनका एक बीमा पोलिसी भी है जो ईपीएफओ द्वारा दिया जाता है हम सभी को पता है की EPF में हमारा 12% पैसा जमा होता है और उतना ही हमारे नियोक्ता द्वारा EPF और पेंशन में भी जमा किया जाता हैं| लेकिन इसके अलावा भी नियोक्ता द्वारा कुछ योगदान किया जाता है जिसके बारे में अधिकतर कर्मचारियों को नहीं पता रहता ,और इसी के तहत edli (employees diposite linked insurance) बीमा के तहत नियोक्ता द्वारा 0.5 प्रतिशत योगदान किया जाता है जिसके तहत कर्मचारी की मृत्यु हो जाने पर उसके नॉमिनी या परिवार वालों को ₹6 लाख तक की बीमा राशि प्रदान की जाती है |आप नीचे देख सकते हैं कि कर्मचारी और नियोक्ता द्वारा epfo में किस तरह योगदान किया जाता है-

कर्मचारी भविष्य निधि में शामिल होने वाले सभी कर्मचारी EDLI या employees deposite linked insurance, 1976 द्वारा कवर किए जाते हैं। ईडीएलआई प्राकृतिक कारणों, बीमारी या दुर्घटना के कारण मौत की स्थिति में बीमित व्यक्ति के मनोनीत लाभार्थी को एकमुश्त भुगतान प्रदान करता है।
आज इस पोस्ट में इन सब के बारे में हम जानेंगे कि-कर्मचारी जमा लिंक्ड बीमा योजना क्या है? ईडीएलआई किस तरह का बीमा प्रदान करता है? दावा राशि कितनी है? क्या ईडीएलआई के विकल्प हैं? EDLI से कोई दावा कैसे कर सकता है?

Edli के तहत कितनी राशि मिलती है?
यदि किसी कर्मचारी की कार्यकाल जिस समय मृत्यु हो जाती हैं तो उसकी परिवार जनों को बीमा के तौर पर फिलहाल के समय ₹600000 तक की राशि मिल सकती है 2015 के पहले यह राशि 360000 रुपए थी जिसे सितंबर 2015 के बाद ₹600000 कर दी गई है|

ईडीएलआई क्या है?

ईडीएलआई या कर्मचारी की जमा लिंक्ड इंश्योरेंस स्कीम प्राकृतिक कारणों, बीमारी या दुर्घटना के कारण मौत की स्थिति में बीमित व्यक्ति के मनोनीत लाभार्थी को एकमुश्त भुगतान प्रदान करती है। सभी नियोक्ता जिनके लिए कर्मचारी भविष्य निधि और विविध प्रावधान अधिनियम, 1952 लागू होता है, उनके पास अपने सभी कर्मचारियों को जीवन बीमा के लाभ प्रदान करने के लिए ईडीएलआई की सदस्यता लेने की वैधानिक देयता है। ईएफएफओ के पास 6 करोड़ से अधिक का सक्रिय ग्राहक आधार है और यह सीधे 6 लाख करोड़ रुपये से अधिक का एक कॉर्पस प्रबंधित करता है। इसके अतिरिक्त, 2 ट्रिलियन से अधिक छूट प्रतिष्ठानों या संगठनों द्वारा प्रबंधित किया जाता है जो ईपीएफओ के अत्यधिक मार्गदर्शन के तहत अपने पीएफ पैसे का प्रबंधन करते हैं। वित्त वर्ष 2014 में इस योजना के तहत कुल 697.7 करोड़ रुपये का योगदान दिया गया था और 152.6 करोड़ रुपये के दावों का निपटारा किया गया था। कर्मचारी जमा लिंक्ड बीमा योजना एक व्यापक समूह अवधि बीमा है।
EDLI के कुछ विशेष तथ्य-

1.प्रोविडेंट फंड के सदस्य होने वाले प्रत्येक कर्मचारी को ईडीएलआई के तहत कवर किया जाता है।

2.कर्मचारी कहीं भी हो सकता है। कार्यस्थल पर होने के लिए आवश्यक नहीं है।

3.इसमें कारण के बावजूद कर्मचारी की मौत शामिल है। इस नीति के तहत कोई बहिष्कार नहीं है।

4.आयु या लिंग या अन्य कारक के बावजूद प्रत्येक कर्मचारी के लिए कवरेज और प्रीमियम समान है।

5.बीमा कवरेज 15,000 रुपये की ऊपरी सीमा के साथ कर्मचारी, मूल + महंगाई भत्ता के वेतन से जुड़ा हुआ है।

6.ईडीएलआई लाभ का लाभ उठाने के लिए सेवा की कोई न्यूनतम सीमा नहीं है।

कर्मचारी जमा लिंक्ड बीमा योजना के तहत बीमा कवर कितना मिलता है?

वर्तमान में, केवल एक ही संगठन में एक वर्ष तक लगातार काम करने वाले ग्राहक बीमा कवर के लिए पात्र हैं। पहले इसके अधिकतम राशि 3,60000 रूपये थी|
लेकिन सितंबर 2015 में, ईपीएफओ ने अपने कर्मचारी जमा लिंक्ड इंश्योरेंस स्कीम (ईडीएलआई) के तहत अधिकतम 3.6 लाख रुपये से 6 लाख रुपये के लिए अधिकतम राशि में वृद्धि की घोषणा की। और अभी के समय में उस के तहत ₹600000 की बीमा राशि प्रदान की जाती है,ईडीएलआई की दावा राशि कर्मचारी के आखिरी वेतन से तय की जाती है।

EDLI insurance calculate kaise kare? Edli बीमा की राशि कैलकुलेट कैसे करें?
इसके तहत कर्मचारी की बेसिक प्लस महंगाई भत्ता के हिसाब से बीमा राशि कैलकुलेट की जाती है तथा बेसिक सैलरी को 30 से गुणा कर दिया जाता है और इसके साथ डेढ़ लाख रूपय का बोनस भी दिया जाता है |
यदि मान लीजिए उदाहरण के तौर पर एक कर्मचारी की बेसिक सैलरी ₹15000 है|

30 गुना वेतन। (इस गणना वेतन के लिए मूल वेतन प्लस डीए या महंगाई भत्ता है)
इसके साथ ही 1.5 लाख रुपये का बोनस भी दिया जाता है।

इस प्रकार, अधिकतम ईडीएलआई दावा राशि 6 ​​लाख रुपये ((30 x15,000) + 1,50,000] होगी।
=6,00000 रूपये|

बीमा राशि के लिए दावा कैसे करें?How to claim for edli insurance?
यदि किसी कर्मचारी ने अपने कार्यकाल 1 वर्ष पूरा कर लिया हो और उसकी दुर्घटना वश मृत्यु हो जाती है तो उसके नॉमिनी अथवा परिवार के सदस्य उसके PF फॉर्म भरते समय उसके साथ form-5IF भरकर उसके साथ व्यक्ति की डेथ सर्टिफिकेट लगाकर epfo ऑफिस में जमा कर बीमा राशि के लिए दावा कर सकते हैं और साथ ही नियोक्ता को भी इसके तहत होम EPF को में दावा हेतु जमा करवाना पड़ता है तथा इसका भुगतान 30 दिनों के अंदर ईपीएफओ द्वारा बैंक खाते में जमा कर दिया जाता है|

2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published.