ईपीएफओ नियमों में बड़े बदलाव की तैयारी| होगा 5 करोड़ पीएफ मेंम्बर्स को फायदा|

ईपीएफओ नियमों में बड़े बदलाव की तैयारी| होगा 5 करोड़ पीएफ मेंम्बर्स को फायदा|

ईपीएफओ ने अपने नियमों में एक बड़ा बदलाव करने की तैयारी कर ली है, और इस बदलाव का प्रस्ताव सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज के सामने रखा जाएगा,यह प्रस्ताव पारित हो जाने पर 5 करोड़ पीएफ मेंबर्स को इसका लाभ होगा. दरअसल फिलहाल के समय में अधिकतर कर्मचारी प्राइवेट संस्था मैं कार्यरत हैं और अधिकतर कर्मचारी किसी भी संस्था में लगातार 10 वर्ष कार्यरत नहीं रह पाते जिससे वह वृद्धावस्था पेंशन योजना से मुक्त रह जाते हैं |क्योंकि जब कभी नौकरी छोड़ते हैं 10 साल के पहले तो उसका पूरा फाइनल PF निकाल लेते हैं जिससे वह PF खाता बंद हो जाता है और दूसरी संस्था में नौकरी मिलने पर एक नया पीएफ खाता बन जाता है जिस वजह से वह पेंशन के हकदार नहीं बन पाते| लेकिन EPFO ने अपने नियमों में बड़े बदलाव करने की तैयारी कर ली है इस तैयारी के तहत यदि आप की नौकरी छूट जाती है तो एक महीने बाद 60% या फिर पिछले 3 महीने के वेतन के बराबर एडवांस पेंशन निकाल कर अपना गुजारा कर सकते हैं |दूसरी तरफ यदि आप की नौकरी छूट जाती है और 3 महीने बाद तक भी आप को नयी नौकरी नहीं मिलती ऐसी स्थिति में आप 80% या पिछले 2 महीने के वेतन के बराबर एडवांस पेंशन निकाल पाएंगे|
और यह बदलाव होने पर सबसे बड़ा फायदा यह होगा की बार- बार नौकरी बदलने और फाइनल पीएफ निकालने की वजह से वृद्धावस्था पेंशन योजना से जो कर्मचारी छूट जाते हैं वह अब इससे अलग नहीं होंगे ,क्योंकि इस बदलाव के तहत आप नौकरी छोड़ने पर इस तरह से एडवांस पेंशन निकालकर अपने बेरोजगारी के दिन अपना गुजारा कर पाएंगे और जब नई नौकरी मिल जाएगी तो उसका पीएफ आपके पिछले पीएफ नंबर पर कंट्रीब्यूशन चालू हो जाएगा |जिससे आपका कंट्रीब्यूशन लगातार बना रहेगा और आप वृद्धावस्था पेंशन योजना के हकदार भी बन जाएंगे यानी कि आपको 58 साल की उम्र के बाद पेंशन भी मिलने शुरु हो जाएगी|

इस बदलाव से मिलने वाले लाभ
*नौकरी छोड़ने के एक महीने बाद 60% या पिछले 3 महीने की वेतन के बराबर एडवांस पेंशन निकासी|
*नौकरी छोड़ने के 3 महीने बाद 80% या पिछले 2 महीने की वेतन के बराबर एडवांस पेंशन निकासी|
*नौकरी बदलने पर भी उसी PF नंबर पर कंट्रीब्यूशन| जिससे पेंशन के हकदार बनने की संभावना अधिक|